-->

प्रेम मन्दिर: वृन्दावन उत्तर प्रदेश, मथुरा, प्रेम का आदर्श मंदिर

YOUR DT SEVA
0
भारत देश को मन्दिरों का देश कहा जाता है यहाँ वृन्दावन एक ऐसा शहर है जिसका प्रेम मंदिर दुनिया में प्रसिद्ध है Prem Mandir Kahan Hai प्रेम मंदिर एक ऐसे शहर में स्थित है जो स्‍पेशल मन्दिराें के लिए प्रसिद्व हैं जी मथुरा का वृन्दावन एक ऐसा शहर हैं जहॉं लगभग 5500 मन्दिर है भगवाान श्‍याम सुन्‍दर मुरली मनोहर ने अपने बचपन की बाल लीलाएँ इसी शहर में की हैं। हिन्‍दू धर्म के लिए यह एक पवित्र स्‍थान माना जाता है यहॉं समय के साथ साथ पुराने मन्दिरों का कायाकल्‍प तो हुआ ही है साथ ही कुछ नये मन्दिर भी कृष्‍ण भक्‍तों ने बनाये हैं इनमे प्रेम मन्दिर की भव्‍यता व सुन्‍दरता को देखने के लिए श्रद्वालु व पर्यटक खिचे चले आते हैं अभी हाल के वर्षो में यहॉं कुछ और नए मन्दिर बने हैं जो सबको अपनी ओर आकर्षित करते हैं इनमें प्रेम मन्दिर, चन्‍द्रोदय, मन्दिर व प्रियाकांत जू मन्दिर आदि शामिल हैं अब तो लोग गूगल पर सर्च कर जानना चाहते हैं Prem Mandir Kahan Hai प्रेम का अद्भुत मन्दिर कहीं है तो वह वृन्दावन में ही है आज की इस पोस्‍ट में वृन्दावन के इस अनोखे मन्दिर के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।
Prem Mandir Vrindavan
Prem-Mandir-Kahan-Hai-Aur-Kaisa-Hai

    Prem Mandir Kahan Hai - प्रेम मंदिर कहां स्थित है

    Prem Mandir Kahan Sthit Hai : प्रेम मंदिर उत्‍तर प्रदेश के मथुरा जिले में यमुना नदी के तट पर स्थित है जो भगवान कृष्ण की जन्‍मभूमि है यहीं द्वापर युग से प्रसिद्व वृन्दावन शहर है जहाँ भगवान कृष्‍ण ने अपने बचपन की बाल लीलाऍं की थीं इन बाल लीलाओं को सजीव करता व राधा कृष्‍ण के प्रेम को दिखाता प्रेम मन्दिर है इस मन्दिर में एक बार पहुँचने पर ऐसा लगता है द्वापर युग में आ गये हों ताजमहल की तर्ज पर बना यह मन्दिर पर्यटकों की फेवरिट जगह बन चुका है आदर्श प्रेम को देखना है तो वह इसी मन्दिर में दिखेगा। इस मन्दिर को देखने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं। मथुरा में Prem Mandir Kahan Hai प्रेम मथुरा के नजदीक वृन्दावन शहर है यही पर प्रेम मंदिर बना है।  
    अन्य सम्बधित पोस्ट 
    प्रसिद्ध भारतीय मंदिरों के लाइव दर्शन          बागेश्वर धाम की जानकारी
    अयोध्या राम मंदिर          राम मंदिर आरती

    Prem Mandir Design | प्रेम मंदिर कैसा है

    भारत में छोटे-छोटे प्रेम मन्दिर कई जगह देखने को मिल जायेंगें लेकिन इनमें सबसे प्रमुख और सबसे बडा Prem Mandir Kahan Hai तो यह सिर्फ मन्दिर मथुरा जिले के नजदीक वृन्दावन शहर में है इस मन्दिर की निम्‍नलिखत खासियत है 
    • प्रेम मन्दिर को बनवाने करीब में 11 वर्ष का समय लग गया था।
    • प्रेम मन्दिर को बनाने में 500 करोड रूपये की धनराशि खर्च हुई 
    • प्रेम मन्दिर को बनाने के लिए इटैलियन करारा संगमरमर का प्रयोग किया गया है।  
    • प्रेम मन्दिर को एक हजार शिल्‍पकारों ने बनाया है 
    • प्रेम मन्दिर भारत की प्राचीन शिल्‍पकला का पुनर्जागरण नमूना है।   
    • प्रेम मन्दिर करीब 54 एकड जमीन पर बना है
    • 25000 लोगों को बैठने का सत्‍संग हाल है।

    प्रेम मंदिर कैसा है

    • प्रेम मंदिर एक अद्वितीय स्थल है जो भक्तों को राधा-कृष्ण की अनन्त प्रेम की अनुभूति कराता है। मंदिर के अंदर प्रवेश करते ही, आपको चारों ओर राधा-कृष्ण की प्रतिमाएं देखने को मिलेगी यहाँ पर मूर्तिकारों ने राधा-कृष्ण की लीलाओं को साक्षात स्वरूप दिया है, जिससे आपको एक अद्वितीय अनुभव मिलता है।
    • मंदिर के चबूतरे पर एक परिक्रमा मार्ग बनाया गया है, जो आपको राधा-कृष्ण की लीलाओं के दर्शन के लिए आमंत्रित करता है। यहाँ से आप 48 स्तंभों पर बने खूबसूरत नजारे देख सकते हैं, जो गोविन्द की रासलीला को जीवंत करते हैं।
    • मंदिर में राधा-कृष्ण के अलावा यशोदा नन्द बाबा और सखियों के चित्र भी हैं, जो मंदिर को और भी प्रेमपूर्ण बनाते हैं। यहाँ पर आप कृष्ण भगवान को गोवर्धन पर्वत को सभी ग्वाल बालों के साथ उठाते हुए भी देख सकते हैं, जैसा कि भागवत पुराण में वर्णित है।
    • प्रेम मंदिर वृंदावन में यह सभी दृश्य देखने को मिलते हैं, जो आपको राधा-कृष्ण के प्रेम की अद्वितीय अनुभव प्रदान करते हैं।

    Prem Mandir of Mathura

    PREM MANDIR VRINDAVAN

    Prem Mandir Vrindavan Photos - प्रेम मंदिर वृंदावन फोटो

    प्रेम मन्दिर में राधा कृष्‍ण के प्रेम से संम्‍बन्धित बहुत खूबसूरत चित्र देखने को मिलेगें इनमें प्रमुख हैं काली दह लीला का जहॉं कृष्‍ण कालिया नाग के सिर पर नाच रहे हैं पौराणिक कथाओं के अनुसार कृष्‍ण अपने मित्रों के साथ यमुना नदी के किनारे क्रिकेट खेल रहे थे उनकी गेंद यमुना नदी में गिर गयी जिसे निकालने के लिए कृष्‍ण यमुना में कूद गये जहॉं एक जहरीला सांप रहता था जिससे यमुना का जल विषैला व दूषित हो चुका था कृष्‍ण गेंद के साथ ही उस नाग को भी बाहर ले आये और उसे दूसरी जगह चले जाने को कहा इस दृश्‍य को बाकी सब लोग देख रहें जिसे सुन्‍दर कलाकारी से बना दिया गया है। 

    Prem Mandir in Vrindavan

    Prem Mandir Kahan Hai - परम आनंद के लिए आदर्श स्‍थल प्रेम मंदिर वृंदावन

    Prem Mandir Kahan Hai Photo ❤ Love Temple Mathura

    प्रेम मन्दिर में कृष्‍ण में की सभी बाल लीलाओं के दृश्‍य देखने को मिल जायेगें जिनमें राधा कृष्‍ण झूला कृष्‍ण का गाय चराते हुए कृष्‍ण का पशु पक्षियों से प्रेम नटखट रूप में गोपियों का दही खाना पूतना वध रास लीला इत्‍यादि Prem Mandir Vrindavan Photos देखने के लिए

    Prem Mandir Inside Photos

    Radha Krishna Prem Mandir Vrindavan

    Prem Mandir Mathura- Prem Mandir Kahan Per Hai

    श्री कृपालु जी महाराज द्वारा निर्मित मथुरा जिले में प्रेम मन्दिर आकर्षण का केन्‍द है प्रेम मन्दिर विजिट करने के लिए पहले मथुरा जिले को जायें यहॉं से वृन्‍दावन और वृन्‍दावन में छटीकरा से लगभग 3 किलोमीटर दूर दिल्‍ली आगरा के राष्‍ट्रीय राजमार्ग 2 पर भक्तिवेन्‍दात स्‍वामी मार्ग रमन रेती में प्रेम मन्दि स्थित है

    Prem Mandir Booking

    प्रेम मन्दिर में प्रवेश व दर्शन करने के लिए कोई बुकिंग नहीं होती है यह बिल्‍कुल निशुल्‍क है और प्रेम मन्दिर के द्वार सभी जातियों के लोगों को खुले हैं कोई भी जाकर श्री बांके बिहारी जी की लीलाओं के दर्शन कर सकता है। 

    Prem Mandir Vrindavan Timings - प्रेम मंदिर खुलने का समय

    प्रेम मन्दिर खुलने का समय है सुबह 5:30 से दोपहर 12 बजे तक है शाम को 4:30 से रात 8: 30 तक प्रतिदिन खुलता है Prem Mandir Opening Time व Prem Mandir Closing Time के बारे में ज्‍यादा जानकारी के लिए नीचे दी गयी मन्दिर की टाइम टेबल देखें 

    Prem Mandir Timing Prem Mandir Opening Time Prem Mandir Closing Time
    जागरण पद सुबह 5:15 से 5:30 तक
    आरती परिक्रमा राम स्‍तुति सुबह 5:30 से 6:30 तक
    भोग अर्पित करना 6:30 से द्वार बंद 8:30 तक
    दर्शन करने का समय सुबह 8:30 से दोपहर 12 बजे तक
    मन्दिर में प्रवेश बन्‍द पट बंद दोपहर 12 बजे से शाम 4:30 बजे तक
    दर्शन आरती शाम 4:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक
    भोग चढाना गीत गान शाम 5:30 से शाम 7 बजे तक
    लाइट म्‍यूजिक फाउंटेन शो ग्रीष्‍मकालीन अक्‍टूबर से मार्च तक शाम 7 बजे से रात्रि 8 बजे तक
    डिजिटल फाउंटेन संगीत शो शीतकालीन अप्रैल से सितम्‍बर तक शाम 7:30 से रात्रि 8 बजे तक
    आरती करने का समय रात्रि 8 बजे से रात 8 बजकर 15 मिनट तक
    शयन पद रात्रि 8: 15 से रात्रि 8:30 तक
    मन्दिर के द्वारा बन्‍द - रात 8:30 से अगले दिन तक
    दिया गया समय प्रेम मन्दिर कमेटी द्वारा बदला भी जा सकता है
    अधिक जानकारी के लिए प्रेम मन्दिर की बेवसाईट देखें

    Prem Mandir Night View - प्रेम मंदिर रात का सीन

    यहॉं रात में  रंग बिरंगी लाईटे जगमगाती हैं जो श्रद्वालुओं को अपनी ओर आकर्षित करती हैं इस मन्दिर में एक बडा सा झूमर लगा है जो रात में और अच्‍छा लगता है प्रेम मन्दिर रात में 30 सेकेण्‍ड में रंग बदलता इसमें इस तरह लाईटिंग की गई है कि दिन में यह बिल्‍कुल सफेद दिखाई देता है और रात में देखने का नजारा कुछ अलग होता है

    Google Prem Mandir Kahan Hai

    अब लो लोग गूगल पर अपनी सभी समस्‍यों का समाधान पूंछते हैं हालाकि गूगल भी जवाब सही देता परन्‍तु विस्‍तृत जानकारी के लिए आपको किसी अच्‍छे आर्टिकल को पढना चाहिए या फिर मांगी गयी जानकारी के विशेषज्ञ से मिलना चाहिए। जैसे कि लोग गूगल से पूछते हैं गूगल प्रेम मन्दिर कहॉं है गूगल भी सीधा सादा जबाव देता है प्रेम मन्दिर वृन्‍दावन में है परन्‍तु इसके द्वारा दी गयी सभी जानकारी सही नहीं हो सकती है।


    Prem Mandir Night View

    Dharamshala near Prem Mandir Vrindavan - प्रेम मंदिर धर्मशाला

    हमारा देश ऋषि मुनि व तपस्वियों की भूमि रहा है यहॉं परोपकारी व असहायोंं की सेवा करने वाले बहुत से लोग हैं जिन्‍होंने धर्मशाला बनवा दी हैं इनमें कुछ प्रमुख फ्री धर्मशाला निम्‍नलिखित हैं। 
    1. श्री जयराम आश्रम  - यह आश्रम ठहरने के लिए एक अच्‍छी जगह है इस आश्रम में श्रद्वालुओं को तीन टाइम मुफ्त भोजन दिया जाता है प्रेम मन्दिर के पास ही यह आश्रम स्थित है। यह आश्रम प्रेम मन्दिर इस्‍कान मन्दिर चद्रोदय मूंदिर से 2 से 4 किलोमीटर की दूरी पर है 
    2. धनुका आश्रम - यह बहुत कम कीमत में अच्‍छी सुविधाओं के साथ ठहरने के लिए है यह आश्रम प्रेम मन्दिर व इस्‍कान मन्दिर से कुछ ही दूरी पर है 
    3. श्री सुदामा कुटी आश्रम - यहॉं गरीबों को सुबह दोपहर और शाम का तीनों टाइम का खाना मुफ्त दिया जाता है गरीबों को सोने बैठने की व्‍यवस्‍था भी निशुल्‍क है।
    4. श्री मलूक पीठ सेवा संस्‍थान न्‍यास - यह आश्रम वृन्‍दावन बस स्‍टेशन से दो किलोमीटर दूर है यहॉं आने वाले भक्‍तों को तीन टाइम का भोजन फ्री में दिया जाता है यहॉं रूकने के लिए चार्ज देना पड सकता है यहॉं का पता है Malook Peeth Ashram, Bansiwat opp. Gopeshwar Mandir, Parikrama Marg, Vrindavan, Uttar Pradesh – 281121
    5. माता रितांबरी आश्रम - यहॉं ठहरने के साथ ही भजन कीर्तन में भी सम्मिलित हो सकते हैं यहॉं भी फ्री  भण्‍डारा होता है। 

    Hotels In Vrindavan Near Prem Mandir - प्रेम मंदिर के पास होटल

    Prem Mandir Ke Pass Hotel कई हैं इनमें प्रमुख होटलों के नाम नीचे बताये गये हैं। यह सभी होटल प्रेम मन्दिर से आधा से  एक किलोमीटर की दूरी पर हैं। इन होटलों का किराया 500 रूपये से लेकर दो हजार तक हो सकता है।
    1. होटल द्वारिका कुंज - यह होटल प्रेम मन्दिर से 350 मीटर की दूरी पर है। 
    2. श्री ठाकुर जी धाम होटल - रूम एसी व नाॅन एसी  
    3. Flute inn Guesthouse - रूम एसी व नाॅन एसी दोनों तरह के उपलब्‍ध हैं।
    4. Hotel Kridha Residency - यह होटल प्रेम मन्दिर के नजदीक ही है। 
    5. होटल गिरिराज कृपा - यह सभी होटल एसी व नान एसी दोनो तरह के रूम में उपलब्‍ध हैं अब आप जाने गये होगें Hotel in Vrindavan near Prem Mandir के पास 

    Prem Temple Vrindavan - प्रेम मन्दिर के बारें में जानकारी

    जानकारी धर्म सम्‍बन्धित
    आ‍र्ट्रिकल का नामप्रेम मन्दिर कहॉं है
    साल 2023
    प्रेम मन्दिर कहॉं स्थित है प्रेम मन्दिर भारत देश के उत्‍तर प्रदेश राज्‍य में मथुरा जिले के नजदीक वृन्‍दावन में है
    प्रेम मन्दिर किसने बनवाया प्रेम मन्दिर जगद्गुरु कृपालु जी महाराज ने बनवाया
    प्रेम मंदिर क्या है ताज महल की तर्ज पर प्रेम मन्दिर में राधा कृष्‍ण व गोपियों के प्रेम को दिखाया गया है 
    प्रेम मन्दिर की बेवसाईट jkp.org.in
    Youtube Channel CLICKHERE
    Google Map Location
    प्रेम मन्दिर की शैली   हिन्‍दू स्‍थापत्‍य शैली भारतीय पुनर्जागरण काल का नमूना 
    प्रेम मन्दिर कैसा है सफेद इटालियन संगमरमर से 54 एकड में बना रात में हर तीन मिनट में रंग बदलता

    Mathura to Prem Mandir Distance - प्रेम मंदिर से बरसाना की दूरी


    Sri Kripalu Maharaj Ji Marg Raman Reiti Vrindavan Uttar Pradesh मथुरा रेलवे जंक्‍शन से प्रेम मन्दिर की दूरी 15 किलोमीटर है चूंकि प्रेम मन्दिर वृन्‍दावन में स्थित है प्रेम मंदिर से बरसाना की दूरी करीब 40 किलोमीटर है।

    चेतावनी

    इस क्षेत्र में बहुत ज्‍यादा पर्यटक आते हैं पर्यटकों को ठहरने के लिए कुल मिलाकर बुनियादी ढांचा ज्‍यादा सही नहीं है दलालों व गाइडोंं से सावधान रहें दिशा निर्देशों का पालन करें किसी भी अन्‍जान जगह के बारें जानकारी अपने होटल के स्‍टाफ अथवा किसी सही व्‍यक्ति दुकान के मालिक आदि से मदद लें टैक्सी व चार पहिया वाहन आमतौर पर मंदिरों से कुछ दूर पहले ही रोक दिये जाते हैं आपको अन्तिम मील तक पैदल चलना हो सकता है अथवा ई रिक्‍शा किराये पर लेना होगा। कोई भी होटल अथवा धर्मशाला अपनी सूझबूझ से ही बुक करें। यह सभी जानकारी गूगल से ली गयी है जिनमें लेखक का किसी भी प्रकार से कोई सम्‍ंबध नहीं हैै।

    FAQs

    Q. 1 मथुरा रेवले स्‍टेशन से प्रेम मन्दिर की दूरी कितनी है?

    Ans. 15 किलोमीटर 

    Q. 2 लव टेम्‍पल कहॉं है?

     Ans. लव टेम्‍पल मथुरा जिला के वृन्‍दावन शहर में है, जो कि प्रेम मन्दिर नाम से प्रसिद्व है। 

    Q. 3 प्रेम मंदिर कहाँ स्थित है?

    Ans.वृन्‍दावन में 

    Q. 4 प्रेम मन्दिर किसने बनवाया?

    Ans. प्रेम मन्दिर जगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज ने बनवाया है, जो कि जगद्गुरु कृपालु परिषद् नाम से वैश्विक हिन्दू संगठन है जिनके आश्रम विश्‍वभर में स्‍थापित हैं यह एक गैर लाभकारी संस्‍था चलाते हैं साथ अस्‍पताल स्‍कूूल बनवाने जैसे कार्य भी करते हैं इन्‍होंने भारत में कई हिन्‍दू मन्दिर बनवाये हैं जिसने प्रेम मंदिर वृन्दावन बनाया  बरसाना में कीर्ति मन्दिर वृन्‍दावन में प्रेम मन्दिर मनगढ जिला प्रतापगढ यूपी में भक्ति मन्दिर, यहीं इनका जन्‍म हआ था विदेशों में भी इन्‍होंनें मंन्दिर बनवाये हैं। हांलाकि जगदगुरू का देहान्‍त हो चुका है। 

    Q. 5 प्रेम मंदिर वृन्दावन कैसे पहुंचे?

    Ans. - प्रेम मन्दिर वृन्‍दावन पहॅुचने के लिए सबसे पहले आपको भगवाान कृष्‍ण की जन्‍म भूमि उत्‍तर प्रदेश के मथुरा जिले में जाना होगा मथुरा आप ट्रेन से पहुंच सकते हैं आप अपने मोबाईल अथवा कम्‍प्‍यूटर में रेलवे टिकट बुक करने वाली बेवासाईट से चेक कर लीजिए आपके नजदीकी रेलवे स्‍टेशन से कौन सी ट्रेन मथुरा जंक्‍शन को जाती है आपको किराया किलोमीटर सब आनलाईन पता लग जायेगा यदि आप हवाई मार्ग से मथुरा जाना चाहते हैं तो आपको अगरा जिले में जाना होगा क्‍योंकि मथुुरा जिले का नजदीकी हवाई अडडा अगरा में है अगरा से मथुरा जिले की दूरी करीब 90 किलोमीटर है यहॉं से आप बस टैक्‍सी अथवा ट्रेन से मथुरा जा सकते हैं और मथुरा जिले से फिर वृन्‍दावन जाना होगा जहॉं प्रेम मन्दिर है।

    Q. 6 प्रेम मंदिर क्या है?

    Ans. प्रेम मन्दिर वृन्‍दावन में बना राधा कृष्‍ण का मन्दिर है इस मन्दिर में कृष्‍ण की लीलाओं व राधा कृष्‍ण गोपियों के प्रेम को दिखाया गया है। 

    Q. 6 भारत में प्रेम मंदिर कहाँ है?

    Ans. - भारत में छोटे छोटे प्रेम मन्दिर कई जगह देखने को मिल जायेगें परन्‍तु सबसे बडा व सबसे प्रसिद्व प्रेम मन्दिर मथुरा जिले के वृन्‍दावन शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग 2 पर छटीकरा के नजदीक भक्तिवेदान्त स्वामी मार्ग पर रमन रेती में बना है जो कि 54 एकड में बना है इस मन्दिर को बनाने में करीब 500 करोड रूपये की लागत लगी है। इसमें राधा कृष्‍ण के दिव्‍य प्रेम को बढे आदर्श के साथ दिखाया गया है।

    Q.7 प्रेम मंदिर खुलने का समय?

    Ans. - प्रेम मंदिर 5:30 AM से 6:30 AM तक और 8:30 AM से 12 PM तक खुलता है तथा शाम को 4:30 PM से 8:30 PM तक प्रेम मन्दिर खुलने का समय है। 

    Q. 8 प्रेम मंदिर बंद होने का समय ?

    Ans. - प्रेम मन्दिर दोपहर 12 बजे से शाम 4:30 बजे तक बन्‍द रहता और रात मेंं 8:30 से सुबह 5:30 बन्‍द रहता है।  

    Q. 9 प्रेम मंदिर कहां है ?

    Ans. प्रेम मंदिर मथुरा जिले के वृन्‍दावन शहर में (श्री कृपालु महाराज जी मार्ग रमन रेती वृन्‍दावन उत्‍तर प्रदेश पिन 281121) मोबाईल नम्‍बर 08882480000

    Q. 10 प्रेम मंदिर की लागत कितनी है?

    Ans. प्रेम मन्दिर की लागत करीब 23 मिलियन डॉलर है। 

    निष्‍कर्ष 

    प्रेम एक एहसास है यह दिमाग से नहीं दिल से होता है कुछ लोग इसे मीठा जहर भी कहते हैं प्रेम को ईश्‍वर का रूप भी कहा जाता हैं ऐसा माना जाता है भगवान कृष्‍ण संसार को मोहित करते थे लेकिन राधा कृष्‍ण को मोहित कर देती थी उन्‍हीं राधा कृष्‍ण गोपियों के प्रेम को दर्शाता Prem Mandir Kahan Hai के बारे में जानकारी आज की इस पोस्‍ट में दी गयी थी उम्‍मीद है परम आंनद के प्रेम स्‍थल को आप विजिट करेंगें।

    यदि आपका इस पोस्‍ट से संम्‍बन्धित कोई सवाल हो तो कमेंन्‍ट करें।
    इन्‍हें भी पढे। 
    बागेश्‍वर धाम कहॉं है
    भारत के प्रसिद्व मन्दिरों के लाइव दर्शन

    Tags

    Post a Comment

    0Comments

    Post a Comment (0)
    remove code in blogger.txt Displaying remove code in blogger.txt.